Irrfan Khan Birth Anniversary: एक अद्वितीय कहानी, क्रिकेटर बनना चाहते थे इरफान

इरफान खान, जिनका असली नाम साहबजादे इरफान अली खान था, ने अपने जीवन की शुरुआत जयपुर के एक छोटे से गाँव से की थी।

उनका परिवार जमींदार और शाही था, लेकिन इरफान का मन कहीं और था। उन्हें क्रिकेट के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की उम्मीद थी।

यह सच है कि इरफान का सपना क्रिकेटर बनने का था। वह एक अच्छे क्रिकेटर थे और उनका चयन सीके नायडू ट्रॉफी के लिए लगभग हो गया था।

लेकिन दुर्भाग्य से, पैसों की तंगी और परिवारवालों की बेरुखी के चलते उनका क्रिकेटर बनने का सपना अधूरा रह गया।

इरफान एक प्रतिभाशाली अभिनेता थे और उन्होंने अपने अभिनय से दुनिया भर में लोगों को प्रभावित किया।

न्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया, जिनमें फिल्मफेयर पुरस्कार, राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और पद्म श्री शामिल हैं।

उन्होंने 2019 में फिल्म "अंग्रेजी मीडियम" में अभिनय किया, जो उनकी आखिरी फिल्म थी।

इरफान खान ने कैंसर से लड़ाई लड़ते हुए 29 अप्रैल, 2020 को 54 साल की उम्र में मुंबई में अंतिम सांस ली।

इसी तरह के और मनोरंजन आर्टिकल पढ़ने के लिए SwipUp करे.